Tags Posts tagged with "SAD"

SAD

Subhadra Kumari Chauhan

0 97
रीती होती जाती थी जीवन की मधुमय प्याली। फीकी पड़ती जाती थी मेरे यौवन की लाली।। हँस-हँस कर यहाँ निराशा थी अपने...
Javed Akhtar

0 8
यही हालात इब्तदा से रहे लोग हमसे ख़फ़ा-ख़फ़ा-से रहे बेवफ़ा तुम कभी न थे लेकिन ये भी सच है कि बेवफ़ा-से...
Gopaldas "Neeraj"

0 16
प्यार अगर थामता न पथ में उँगली इस बीमार उमर की हर पीड़ा वैश्या बन जाती, हर आँसू आवारा होता। निरवंशी रहता उजियाला गोद...
Gopal Singh Nepali

0 12
दूर जाकर न कोई बिसारा करे, मन दुबारा-तिबारा पुकारा करे, यूँ बिछड़ कर न रतियाँ गुज़ारा करे, मन दुबारा-तिबारा पुकारा करे । मन मिला...
Bhawani Prasad Mishra

0 28
बुरी बात है चुप मसान में बैठे-बैठे दुःख सोचना, दर्द सोचना ! शक्तिहीन कमज़ोर तुच्छ को हाज़िर नाज़िर रखकर सपने बुरे देखना ! टूटी हुई बीन...
HUM SO JATE HAI APNE KAL KE LIYE. BAGAIR SOCHE KI AAJ DIL JISKA DUKHAYA WO SOYA HOGA KI NAI

0 139
HUM SO JATE HAI APNE KAL KE LIYE. BAGAIR SOCHE KI AAJ DIL JISKA DUKHAYA WO SOYA HOGA KI NAI हम सो जाते है अपने कल के...